Take a fresh look at your lifestyle.

Mela Dilon Ka Aata Hai Song Lyrics

0 907
Mela Dilon Ka Aata Hai Song
Mela Dilon Ka Aata Hai Song Lyrics

Mela Dilon Ka is a Hindi song from the 2000 movie Mela. Mela Dilon Ka singers are Abhijeet Bhattacharya, Alka Yagnik, Hema Sardesai, Sadhana Sargam, Udit Narayan. Mela Dilon Ka composer is Anu Malik, Rajesh Roshan and Mela Dilon Ka lyricist or songwriter is Sameer. Mela Dilon Ka music director is Anu Malik, Rajesh Roshan. Mela Dilon Ka features Aamir Khan, Twinkle Khanna, Faisal Khan, Johnny Lever, Tinnu Verma.

Movie Details

Movie: Mela

Singer/Singers: Sonu Nigam, Roop Kumar Rathod, Sadhana Sargam, Udit Narayan

Music Director: Leslie Lewis, Anu Malik, Rajesh Roshan

Lyricist: Dev Kohli, Dharmesh Darshan, Sameer

Actors/Actresses: Aamir Khan, Faisal Khan, Twinkle Khanna, Johny Lever, Navneet Nishan, Asrani, Tiku Talsania

Year/Decade: 2000

Music Label: Venus

Song Lyrics in English Text

Is Duniya Main Desh Kahi
Desh Kahi Main Desh Hai
Ek Aur Us Desk Ka Naam Hai
Bhaarat Bhaarat Bhaarat
Bhaarat Bhaarat
Hamara Bhaarat Tumhara Bhaarat
Pyara Bhaarat Pyara Bhaarat
Pyara Bhaarat Pyara Bhaarat
Hamara Bhaarat Tumhara Bhaarat
Bhaarat Desh Main Hai
Gaov Kahi Gavo Kahi
Main Gaov Hai Ek
Apne Gaov Ke Log Neak
Logo Ke Sene Mai Raheta Hai
Dil Aur Kaheta Hai Kaheta Hai
Kaheta Hai Dil
Kya Kaheta Hai Dil Ramaji

Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai
Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai
Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai

Aate Hain Musaafir
Jaate Hain Musaafir
Jaana Hi Hai Sabko
Kyun Aate Hain Musaafir
Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai

Hans Le Gaa Le Yeh Din Na Milenge Kal
Thodi Khushiya Hain Thode Se Yeh Pal
Hans Le Gaa Le Yeh Din Na Milenge Kal
Thodi Khushiya Hain Thode Se Yeh Pal
Ek Baar Chali Gayi Jo Yeh Bahaare
Laut Ke Na Aayengi Gujari Bahaare
Mela Bahaaro Kaa
Mela Bahaaro Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai
Aati Hain Bahaare
Jaati Hain Bahaare
Jaana Hi Hai Inako
Kyun Aati Hain Bahaare
Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai
Saat Ajuba Is Duniya Mai
Anthva Hai Roop Tera Roopa
Roopa O Meri Roopa Mjhse
Door Tu Jaa Naa Meri Roopa

Aayi Re Jawani Jise Rut Toofani
Pagali Ye Diwani Uf Mai Kya Karu
Mai Bhai Sayani Sabko Paresani
Umra Ye Suhanii To Mai Kyaa Karu

Dekh Ri Diwani Naa Kartu Nadaani
Barbar Nahi Aani Ye Pal Bahr Ki Jawanii
Mela Jawanii Kaa
Mela Jawanii Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai

Aati Hain Jawanii Jaate Hain Jawanii
Jaana Hi Hai Isko
Kyun Aate Hain Jawanii
Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai

Bulbul Gulgul Bulbul Bulbul
Meri Sakhi Saheli Hai Bulbul
Hmm Is Gaov Ki Mai Bulbul Hoon
Main Udne Ki Hu Mai Aadi
Mai Sabkuch Kar Sakati Hoon
Par Karoongi Na Main Shhaadi
Haa Karoongi Na Main Shhaadi

Khela Hai Yaha Mera Bachpan
Na Chhodungi Ya Aangan
Sun Bahi Mere Sun Gaov Mere
Na Bandhu Koi Bandhan
Na Bandhu Koi Bandhan

Yahi Rashm Hai Is Duniya Ki
Beti To Dhan Hai Paraaya
Duje Ka Dhan Ghar Apne
Koi Bhi Na Rakh Paya
Koi Bhi Na Rakh Paya
Mela Bidai Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai

Banke Bahena Gudiya
Mere Ghar Main Aayi Dulhan
Banke Jaana Tha To Gudiya
Ban Ke Kyu Aayi
Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai
Mela Dilon Kaa Aata Hai
Ik Baar Aake Chala Jaata Hai.

Song Lyrics in Hindi Font

मेला दिलों का – थीम
मेला दिलों का आता है
इक बार आ के चला जाता है
आते हैं मुसाफ़िर, जाते हैं मुसाफ़िर
जाना ही है उनको, क्यों आते है मुसाफ़िर
मेला दिलों का…

हँस ले गा ले, ये दिन ना मिलेंगे कल
थोड़ी खुशियाँ, हैं थोड़े से ये पल
एक बार चली गयी जो ये बहारें
लौट के ना आएँगी, गुज़री बहारें
मेला बहारों का आता है
इक बार आ के चला जाता है
आती हैं बहारें, जाती हैं बहारें
जाना ही है इनको, क्यों आती हैं बहारें
मेला दिलों का…

साजन मेरे, एक तुझ पे भरोसा है
इस भीड़ में, बस तू ही तो मेरा है
मौसम बदले, बदले ज़माना
वादा किया जो वादा निभाना
मेला वफाओं का आता है
इक बार आ के चला जाता है
हाथों की लकीरें, गायें ये तराना
मर के भी ये रिश्ता, हमको है निभाना
मेला दिलों का…

मेला दिलों का – सेलिब्रेशन
इस दुनिया में देश कई
देश कई में देश है एक
और उस देश का नाम है
भारत भारत भारत भारत भारत
हमारा भारत, तुम्हारा भारत
प्यारा भारत, प्यारा भारत

भारत देश में गाँव कई
गाँव कई में गाँव है एक
अपने गाँव के लोग हैं नेक
लोगों के सीने में रहता है दिल
और दिल कहता है कहता है
कहता है कहता है कहता है
कहता है दिल
क्या कहता है दिल राम जी

मेला दिलों का आता है
एक बार आ के चला जाता है
आते हैं मुसाफ़िर, जाते हैं मुसाफ़िर
जाना ही है सबको, क्यों आते हैं मुसाफ़िर
मेला दिलों का…

हँस ले गा ले, ये दिन ना मिलेंगे कल
थोड़ी खुशियाँ, हैं थोड़े से ये पल
एक बार चली गयी जो ये बहारें
लौट के ना आएँगी गुज़री बहारें
मेला बहारों का आता है
एक बार आ के चला जाता है
आती हैं बहारें, जाती हैं बहारें
जाना ही है उनको, क्यों आती हैं बहारें
मेला दिलों का…

सात अजूबे इस दुनिया में
आठवाँ है रूप तेरा रूपा
ओ रूपा ओ मेरी रूपा
मुझसे दूर तू न जाना मेरी रूपा
रूपा रूपा रूपा रूपा

आई रे जवानी, जैसे रुत तूफानी
पगली ये दीवानी, उफ़ मैं क्या करूँ
मैं भई सयानी, सबको परेशानी
उम्र ये सुहानी, तो मैं क्या करूँ
देख री दीवानी, ना कर तू नादानी
बार-बार नहीं आनी, ये पल भर की जवानी
मेला जवानी का आता है
एक बार आ के चला जाता है
आती है जवानी, जाती है जवानी
जाना ही है इसको, क्यों आती है जवानी
मेला दिलों का…

बलिये बलिये
कुछ दिल की सुन बलिये
बस लौट ना फिर बलिये
दुनिया के इस मेले में
धन दौलत का है खेल
धन पास नहीं हो जिसके
वो क्या देखेगा मेला
वो क्या देखेगा मेला

दुःख दूर करूँ मैं उसका
इस गाँव में हो जो दुखिया
हर दुःख की दवा रखता हूँ
कहते हैं मुझको मुखिया
कहते हैं मुझको मुखिया

मैं उड़ती हुई तितली हूँ
हाथों में नहीं आऊँगी
मुझे कैसे पकड़ पाओगे
हर पल मैं उड़ जाऊँगी
तू चलेगी आगे-आगे
हम चलेंगे पीछे-पीछे
दिल रख देंगे हम अपना
तेरे क़दमों के नीचे
मेला मोहब्बत का आता है
एक बार आ के चला जाता है
आते भी हैं आशिक, जाते भी हैं आशिक
जाना ही है इनको, क्यों आते हैं ये आशिक
मेला दिलों को…

बुलबुल बुलबुल
मेरी सखी सहेली बुलबुल
इस गाँव की मैं बुलबुल हूँ
मैं उड़ने की हूँ आदी
मैं सब कुछ कर सकती हूँ
पर करुँगी ना मैं शादी
खेला है यहाँ मेरा बचपन, ना छोडूँगी ये आँगन
सुन भाई मेरे, सुन गाँव मेरे, ना बांधों कोई बंधन
यही रस्म है इस दुनिया की, बेटी तो धन है पराया
दूजे का धन घर अपने, कोई भी ना रख पाया
मेला बिदाई का आता है
एक बार आ के चला जाता है
बन के बहना गुड़िया, मेरे घर में आई
दुल्हन बन के जाना था, क्यों गुड़िया बन के आई
मेला दिलों का…

मेला दिलों का – ग्रैंड फिनाले
मेला दिलों का आता है
इक बार आ के चला जाता है
हम नहीं डरेंगे, दुश्मन से लड़ेंगे
कर्म जो है अपना, हम कर के ही रहेंगे
मेला दिलों का…

सात अजूबे इस दुनिया में
आठवाँ है रूप तेरा रूपा
ओ रूपा ओ मेरी रूपा
मुझसे दूर तू न जाना मेरी रूपा
रूपा रूपा रूपा रूपा

हँस ले गा ले, ये दिन ना मिलेंगे कल
थोड़ी खुशियाँ, हैं थोड़े से ये पल
एक बार चली गयी जो ये बहारें
लौट के ना आएँगी गुज़री बहारें
मेला बहारों का आता है
एक बार आ के चला जाता है
लौटेंगी बहारें, बहारों से कहेंगे
कर्म जो है अपना, हम कर के ही रहेंगे
मेला दिलों का…

कन्हैया, कन्हैया
काहे चुप है तू कन्हैया
कुछ बोल ना तू कृष्णा
लब खोल ना तू कृष्णा

लब कुछ ना कहें तो अच्छा है
ये चुप ही रहें तो अच्छा है
मतलब की भरी इस दुनिया में
ना जाने कौन सच्चा है
हमने भी देखे सपने थे
हमने भी चाहे अपने थे
पर वक़्त ने हमें सिखला ही दिया
हर धागा यहाँ पर कच्चा है

कच्चे धागों से मीत बना
और मीत से अपनी जीत मना
और जीत से ऐसी प्रीत बना
तू प्रीत को जीवन गीत बना…

Note: For any mistake in Lyrics kindly let us know !!

Leave A Reply

Your email address will not be published.