Take a fresh look at your lifestyle.

Mere Bin मेरे बिन Song Lyrics – Ankit Tiwari

0 111
Mere Bin Song Lyrics
Mere Bin Song Lyrics

Mere Bin Song Lyrics, by Abhendra Kumar Upadhyay . This song is sung by Ankit Tiwari, Anshul Seth and the song was released in the year 2020. Music was composed by Sidhaant Sachdev and lyrics were penned by Vibhas .

Movie Details

Singer/Singers: Ankit Tiwari, Anshul Seth

Music Director: Vibhas

Lyricist: Abhendra kumar upadhyay

Year/Decade: 2020

Music Label: Beat2Track Music

Song Lyrics in English Text

Aankhon se puchho shab ka safar
Tukdon mein kiya hai tay humne
Khwabon ki jagah pe paani hai
Ro roke ki hai subah humne

Raaton ki tarah lagte mere din
Jayaz na ab saansein tere bin

Kaise reh lete ho,
Yaar mere bin
Kaise reh lete ho,
Yaar mere bin

Ishq mein tere meri jaan te aayi ae
Chhad dita jagg naal chhad di khudayi ae

Achha nahi hai haal mera tum kaho apna
Theek nahi hoge tum bhi aisa hi hai na

Meri kami agar khalti ho toh
Paas mere aa jaao
Khush honge gar mere bina
To bhula hi rakhna
Haan to bhula hi rakhna

Kabhi kabhi akele mein
Meri yaad to aati hogi
Tere kaanon mein mere rone ki
Aawaz to jaati hogi

Haan dono haath pakad ke tere
Khwab mere roye honge
Kaun se jhooth se bolo unko
Tum samjhaati hogi

Haan mar jaaun na main yaar kisi din
Thak gaya din raat yeh gin gin

Kaise reh lete ho,
Yaar mere bin
Kaise reh lete ho,
Yaar mere bin

Aankhon se puchho shab ka safar
Tukdon mein kiya hai tay humne
Khwabon ki jagah pe paani hai
Ro roke ki hai subah humne

Raaton ki tarah lagte mere din
Jayaz na ab saansein tere bin

Kaise reh lete ho,
Yaar mere bin
Kaise reh lete ho,
Yaar mere bin

Song Lyrics in Hindi Text

आँखों से पूछो शब का सफ़र
टुकड़ों में किया है तय हमने
ख़्वाबों की जगह पे पानी है
रो रोके की है सुबह हमने

रातों की तरह लगते मेरे दिन
जायज़ ना अब सांसें तेरे बिन

कैसे रह लेते हो
यार मेरे बिन
कैसे रह लेते हो
यार मेरे बिन

इश्क़ में तेरे मेरी जान ते आयी ऐ
छड़ दिता जग नाल छड़ दी खुदायी ऐ

अच्छा नहीं है हाल मेरा तुम कहो अपना
ठीक नहीं होगे तुम भी ऐसा ही है ना

मेरी कमी अगर खलती हो तो
पास मेरे आ जाओ
ख़ुश होंगे गर मेरे बिना
तो भुला ही रखना
हाँ तो भुला ही रखना

कभी कभी अकेले में
मेरी याद तो आती होगी
तेरे कानों में मेरे रोने की
आवाज़ तो जाती होगी

हाँ दोनों हाथ पकड़ के तेरे
ख़्वाब मेरे रोए होंगे
कौन से झूठ से बोलो उनको
तुम समझाती होगी

हाँ मर जाऊँ ना मैं यार किसी दिन
थक गया दिन रात ये गीन गिन

कैसे रह लेते हो
यार मेरे बिन
कैसे रह लेते हो
यार मेरे बिन

आँखों से पूछो शब का सफ़र
टुकड़ों में किया है तय हमने
ख़्वाबों की जगह पे पानी है
रो रोके की है सुबह हमने

रातों की तरह लगते मेरे दिन
जायज़ ना अब सांसें तेरे बिन

कैसे रह लेते हो
यार मेरे बिन
कैसे रह लेते हो
यार मेरे बिन

Leave A Reply

Your email address will not be published.