Take a fresh look at your lifestyle.

Ab To Insaan Ko Lyrics

0 228

Romantic song from the album Aahat starring Pankaj Udhas. The album was released in the year 1980. Music was composed by N/A and lyrics were penned by N/A.

Movie Details

Movie: Aahat

Singer/Singers: Pankaj Udhas

Music Director: N/A

Lyricist: N/A

Actors/Actresses: Pankaj Udhas and

Year/Decade: 1980

Music Label: UMG

Song Lyrics in English Text

Ab To Insan Ko Insan Banaya Jaye
Ab To Insan Ko Insan Banaya Jaye
Ya Koi Aur Hi Bhagwaan Banaya Jaye
Ab To Insan Ko Insan Banaya Jaye
Ab To Insan Ko

Sharir Ke Julm Yahan Har Kisi Ka Chehra Hain
Sharir Ke Julm Yahan Har Kisi Ka Chehra Hain
Sharir Ke Julm Yahan Har Kisi Ka Chehra Hain
Kiska Insaaf Yahan Kisse Karaya Jaye
Ab To Insan Ko Insan Banaya Jaye
Ya Koi Aur Hi Bhagwaan Banaya Jaye
Ab To Insan Ko

Rahnuma Khud Ko Sabhi Paak Saaf Kahte Hain
Rahnuma Khud Ko Sabhi Paak Saaf Kahte Hain
Rahnuma Khud Ko Sabhi Paak Saaf Kahte Hain
Aaina Kisko Yahan Kaise Dikhaya Jaye
Ab To Insan Ko Insan Banaya Jaye
Ya Koi Aur Hi Bhagwaan Banaya Jaye
Ab To Insan Ko

Log Chhip Chhip Ke Yahan Roz Bika Karte Hain
Log Chhip Chhip Ke Yahan Roz Bika Karte Hain
Log Chhip Chhip Ke Yahan Roz Bika Karte Hain
Shart Hai Mol Ko Chupke Se Bataya Jaye
Ab To Insan Ko Insan Banaya Jaye
Ya Koi Aur Hi Bhagwaan Banaya Jaye
Ab To Insan Ko Insan Banaya Jaye
Ya Koi Aur Hi Bhagwaan Banaya Jaye
Ab To Insan Ko

Song Lyrics in Hindi Font/Text

अब तो इंसान को इंसान बनाया जाये
अब तो इंसान को इंसान बनाया जाये
या कोई और ही भगवान बनाया जाये
अब तो इंसान को इंसान बनाया जाये
अब तो इंसान को

शरीर के जुल्म यहाँ हर किसी का चेहरा हैं
शरीर के जुल्म यहाँ हर किसी का चेहरा हैं
शरीर के जुल्म यहाँ हर किसी का चेहरा हैं
किसका इन्साफ यहाँ किससे कराया जाये
अब तो इंसान को इंसान बनावा जाये
या कोई और ही भगवान बनाया जाये
अब तो इंसान को

खुद को सभी पाक साफ़ कहते है
खुद को सभी पाक साफ़ कहते है
खुद को सभी पाक साफ़ कहते है
आइना किसको यहाँ कैसे दिखाया जाये
अब तो इंसान को इंसान बनाया जाये
या कोई और ही भगवान बनाया जाये
अब तो इंसान को

लोग छिप छिप के यहाँ रोज़ बिका करते हैं
लोग छिप छिप के यहाँ रोज़ बिका करते हैं
लोग छिप छिप के यहाँ रोज़ बिका करते हैं
शर्त है मोल को चुपके से बताया जावे
अब तो इंसान को इंसान बनाया जाये
या कोई और ही भगवान बनाया जाये
अब तो इंसान को इंसान बनाया जाये
या कोई और ही भगवान बनाया जाये
अब तो इंसान को

Leave A Reply

Your email address will not be published.