Take a fresh look at your lifestyle.

Pehli Baar पहली बार Song Lyrics

0 223
Pehli Baar Song Lyrics
Pehli Baar Song Lyrics

Pehli Baar Lyrics, from the movie Dhadak. This song is sung by Ajay Gogavale and the movie was released in the year 2015. Music was composed by Ajay-Atul and lyrics were penned by Amitabh Bhattacharya.

Movie Details

Movie: Dhadak 

Singer/Singers: Ajay Gogavale

Music Director: Ajay-Atul

Lyricist: Amitabh Bhattacharya

Year/Decade: 2015

Music Label: T-Series

Song Lyrics in English Text

Pehli baar hai ji, pehli baar hai ji
Iss qadar kisi ki dhun sawaar hai ji
Jiski aas mein hui subah se dopehar
Shaam ko usika intezaar hai ji

Hosh hai zara
Zara zara khumaar hai ji
Chhed ke gaya
Woh aise dil ke taar hai ji

Pehli baar hai ji, pehli baar hai ji
Iss qadar kisi ki dhun sawaar hai ji
Jiski aas mein hui subah se dopehar
Shaam ko usika intezaar hai ji…

Hadbadi mein, har ghadi hai
Dhadkane hui baawari
Saara din usey dhoondhte rahe
Naino ki lagi naukri…
Dikh gayi toh hai usi mein
Aaj ki kamaayi meri
Muskura bhi de toh mujhe lage
Jeet li koi lottery…

Dil ki harqatein…
Meri samajh ke paar hain ji
Hey… ishq hai isey
Ya mausami bukhar hai ji

Pehli baar hai ji, pehli baar hai ji
(Hmm….)

Saari saari raat jaagun
Radio pe gaane sunun
Chhat pe let ke
Gin chuka hoon jo
Roz woh sitaare ginun

Kyon na jaane doston ki
Dosti mein dil naa lage
Sabse vaasta tod taad ke
Chahta hoon tera banun

Apne faisley pe mujhko aitbaar hai ji
Oho.. tu bhi bol de
Ki tera kya vichaar hai ji?

Hmm… ra re ra rara…

Song Lyrics in Hindi Text

पहली बार तुमको मैंने जब देखा था
सुन लो यार कि मैंने क्या सोचा था
लगा की तुमसे है मिलना था तबाही
इस दिल को ही समझाने मैंने कहा
इस रस्ते ना जाना कभी राही
ये तेरे लिए है ही नहीं
दिल मेरे बोल उठा
होने दो अब जो भी हो, डरना क्या
भला-बुरा होने दो अब जो भी हो

क्या दिल की सुन ली तुमने
क्या राह चुन ली तुमने
हाँ दिल की सुन ली मैंने
हाँ राह चुन ली मैंने..

पहली बार, तुमको मैंने जब देखा था
सुन लो यार ओ मैंने क्या सोचा था
लगा की मशवरे सुनते हो दिल के
लगा की थोड़े से हो तुम दीवाने से
करोगे दिल की बातें फिर मिलके
और होंगी ये बातें बड़ी हसीं

दिल मेरे बोल उठा
होने दो अब जो भी हो, डरना क्या
भला-बुरा होने दो अब जो भी हो

क्या दिल की सुन ली तुमने
क्या राह चुन ली तुमने

हाँ दिल की सुन ली मैंने
हाँ राह चुन ली मैंने..

लहरों में जैसे लहरें मिलें
ऐसे मिल गयी दिलों की धड़कन
चलते ही चलते राहों में
खोये खोये हैं दोनों तन मन

हम पास आये तो क्यों पास आये
सोचो तो बात है ज़रा सी
कुछ तुम भी प्यासे प्यासे थे कब से
मैं भी थी प्यासी प्यासी..

लगा की तुमसे मिलना था तबाही
इस दिल को ही समझाने मैंने कहा
इस रस्ते ना जाना कभी राही
ये तेरे लिए है ही नहीं

दिल मेरे बोल उठा
होने दो अब जो भी हो, डरना क्या
भला-बुरा होने दो अब जो भी हो

क्या दिल की सुन ली तुमने
क्या राह चुन ली तुमने
हाँ दिल की सुन ली मैंने
हाँ राह चुन ली मैंने..

Leave A Reply

Your email address will not be published.