Take a fresh look at your lifestyle.

Yeh Sham Mastani Lyrics

0 677

ये शाम मस्तानी

एक बहुत ही खूबसूरत गीत फिल्म कटी पतंग से जो की रिलीज हुई थी सन 1971 मे, इस फिल्म के मुख्य कलाकार थे राजेश खन्ना, आशा पारेख | इस फिल्म मे संगीत दिया था R D Burman ने और इस गीत को लिखा था आनंद बक्शी ने |

Movie Details

Movie: कटी पतंग

Singer/Singers: Kishore Kumar

Music Director: R D Burman

Lyricist: आनंद बक्शी

Actors/Actresses: राजेश खन्ना, आशा पारेख

Year/Decade: 1971

Music Label: सारेगामा म्यूजिक

Song Lyrics in English Text

Ye Sham Mastaani, Madahosh Kiye Jaye
Mujhe Dor Koi Khiche, Teri Or Liye Jaye
Ye Sham Mastaani, Madahosh Kiye Jaye
Mujhe Dor Koi Khiche, Teri Or Liye Jaye

Dur Rahati Hai Tu, Mere Paas Aati Nahi
Hotho Pe Tere, Kabhi Pyaas Aati Nahi
Aisaa Lage, Jaise Ki Tu, Hansake Zahar Koi Piye Jaye
Ye Sham Mastaani, Madahosh Kiye Jaye
Mujhe Dor Koi Khiche, Teri Or Liye Jaye

Baat Jab Mai Karun, Mujhe Rok Deti Hai Kyo
Teri Mithi Nazar, Mujhe Tok Deti Hai Kyo
Teri Hayaa, Teri Sharam, Teri Qasam Mere Hoth Siye Jaye
Ye Sham Mastaani, Madahosh Kiye Jaye
Mujhe Dor Koi Khiche, Teri Or Liye Jaye

Ek Ruthi Hui, Taqadir Jaise Koi
Khaamosh Aise Hai Tu, Tasvir Jaise Koi
Teri Nazar, Banake Zubaan, Lekin Tere Paigaam Diye Jaye
Ye Sham Mastaani, Madahosh Kiye Jaye
Mujhe Dor Koi Khiche, Teri Or Liye Jaye
Ye Sham Mastaani, Madahosh Kiye Jaye
Mujhe Dor Koi Khiche, Teri Or Liye Jaye

Song Lyrics in Hindi Font/Text

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाये
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाये
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

दूर रहती है तू
मेरे पास आती नहीं
होठों पे तेरे कभी
प्यास आती नहीं
ऐसा लगे जैसे कि तू
हँसके ज़हर कोई पिए जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाये
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

बात जब मैं करूँ
मुझे रोक देती है क्यों
तेरी मीठी नज़र मुझे
टोक देती है क्यों
तेरी हया तेरी शर्म
तेरी क़सम मेरे
होंठ सिये जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाये
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

एक रूठी हुई तक़दीर जैसे कोई
खामोश ऐसे है
तू तस्वीर जैसे कोई
तेरी नज़र बनके
जुबां लेकिन तेरे
पैगाम दिए जाए
ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाये
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाये
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए.

Leave A Reply

Your email address will not be published.