Take a fresh look at your lifestyle.

Tum Pe Hum Toh तुम पे हम तो Song Lyrics in Hindi

0 264

Tum Pe Hum Toh Lyrics is a Hindi song from the movie Bole Chudiyan . This song is sung by Yasser Desai. This movie was released in the year 2021. Music of this movie was composed by Raghav Sachar and lyrics were written by Laado Suwalka . This song is publised under the label of Zee Music Company. The Song Tum Pe Hum Toh Lyrics is released in the year 2021.

Movie Details

Movie: Bole ChudiyanSinger/Singers: Yasser Desai

Music Director: Raghav Sachar

Lyricist: Laado Suwalka

Year/Decade: 2021

Music Label: Zee Music Company

Song Lyrics in English Text

Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain
Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain

Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain
Sochke tumko lagta hai dil ko
Apni nazar mein loote jaa rahe hain

Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain

Khwab to bas zariya hai tumko paane ka
Teri saanson mein bass ke dil tak aane ka
Khwab to bas zariya hai tumko paane ka
Teri saanson mein bass ke dil tak aane ka

Kaisa safar hai kaisi dagar hai
Raahton se door huye jaa rahe ho

Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain

Chhu bhi lo nazar se mujhe kyun sharmate ho
Hai ishq tumhe bhi bepanah kyun chhupate ho
Chhu bhi lo nazar se mujhe kyun sharmate ho
Hai ishq tumhe bhi bepanah kyun chhupate ho

Bin tere aajkal lagta hai har pal
Betarasa hum to bikhre jaa rahe hain

Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain
Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain

Sochke tumko lagta hai dil ko
Apni nazar mein loote jaa rahe hain
Tum pe hum toh mare ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain

Mitne ki zidd kiye ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain
Mitne ki zidd kiye ja rahe hain

Song Lyrics in Hindi Text

तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं
तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं

तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं
सोचके तुमको लगता है दिल को
अपनी नज़र में लुटे जा रहे हैं

तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं

ख्वाब तो बस जरिया है तुमको पाने का
तेरे साँसों में बस के दिल तक आने का
ख्वाब तो बस जरिया है तुमको पाने का
तेरे साँसों में बस के दिल तक आने का

कैसा सफ़र है कैसी डगर है
राहतों से दूर हुए जा रहे हो

तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं

छू भी लो नज़र से मुझे क्यूँ शर्माते हो
है इश्क तुम्हें भी बेपनाह क्यूँ छुपाते हो
छू भी लो नज़र से मुझे क्यूँ शर्माते हो
है इश्क तुम्हें भी बेपनाह क्यूँ छुपाते हो

बिन तेरे आजकल लगता है हर पल
बेतहासा हम तो बिखरे जा रहे हैं

तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं
तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं

सोचके तुमको लगता है दिल को
अपनी नज़र में लुटे जा रहे हैं
तुम पे हम तो मरे जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं

मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं
मिटने की जिद्द किये जा रहे हैं

Leave A Reply

Your email address will not be published.