Take a fresh look at your lifestyle.

O Bharat Maa ओ भारत माँ Song Lyrics – Javed Ali

0 113

O Bharat Maa Song Lyrics in Hindi, sung by Javed Ali. This song is written by Dheeraj Kumar and music composed by Sunil Devbanshi. Starring Javed Ali, Shivendra Saainiyol, Manveer Choudhary, Rufy khan and Kashvi Pandey.

Movie Details

Singer/Singers: Javed Ali

Music Director: Sunil Devbanshi

Lyricist: Dheeraj Kumar

Year/Decade: 2021

Music Label: Ultra Bollywood

Song Lyrics in English Text

HAM OO E OO

YE deh teri matti
aur man tera suraj
pran teri vayu hai maa

mere dil ki jagah
teri mamta की murat
rag rag ravaan tu maa

YE deh teri matti
aur man tera suraj
pran teri vayu hai maa

mere dil ki jagah
teri mamta की murat
rag rag ravaan tu maa

ho ham tera karj kya chukayege
par har farj ham nibhaege maa
teri rakchha me pran jaye bhi to
teri seva me janm lenge phir yaha
jab tak hai tera ek beta abhi jinda
ratti bhar n hogi kam teri garima

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

dushman koyi sima paar ho
ya ghar me baitha koyi gaddar ho
maphi kisi ko bhi hogi nahi
koyi bhi tera gunhgar ho

ho
dushman koyi sima paar ho
ya ghar me baitha koyi gaddar ho
maphi kisi ko bhi hogi nahi
koyi bhi tera gunhgar ho

uske sine pe phahra ke dhvaja
tere kadamo me shish layenge maa
tere aanchal ki kasam khate hai
vo namo nishan mita dege maa

jab tak hai tera ek beta abhi jinda
ratti bhar n hogi kam teri garima

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

oh bharat maa
oh bharat maa
tere sajde me har
khushi hai karban

Song Lyrics in Hindi Text

हम्म ओ ऐ ओ…

ये देह तेरी माटी
और मन तेरा सूरज
प्राण तेरी वायु है माँ

मेरे दिल की जगह
तेरी ममता की मूरत
रग-रग रवाँ तू है माँ

ये देह तेरी माटी
और मन तेरा सूरज
प्राण तेरी वायु है माँ

मेरे दिल की जगह
तेरी ममता की मूरत
रग-रग रवाँ तू है माँ

हो हम तेरा कर्ज क्या चुकायेंगे
पर हर फ़र्ज़ हम निभाएंगे माँ
तेरी रक्षा में प्राण जाये भी तो
तेरी सेवा में जन्म लेंगे फिर यहाँ

जब तक है तेरा एक बेटा अभी जिन्दा
रत्ती भर न होगी कम तेरी गरिमा

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
तेरे सजदे में हर ख़ुशी है कुरबां

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
बस तेरी गोद में ही जीना मरना

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
तेरे सजदे में हर ख़ुशी है कुरबां

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
बस तेरी गोद में ही जीना मरना

दुश्मन कोई सीमा पार हो
या घर में बैठा कोई गद्दार हो
माफ़ी किसी को भी होगी नहीं
कोई भी तेरा गुनहगार हो

हो…
दुश्मन कोई सीमा पार हो
या घर में बैठा कोई गद्दार हो
माफ़ी किसी को भी होगी नहीं
कोई भी तेरा गुनहगार हो
कोई भी तेरा गुनहगार हो

उसके सीने पे फहरा के ध्वजा
तेरे क़दमों में शीश लायेंगे माँ
तेरे आँचल की कसम खाते हैं
वो नामो निशा मिटा देंगे माँ

जब तक है तेरा एक बेटा अभी जिन्दा
रत्ती भर न होगी कम तेरी गरिमा

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
तेरे सजदे में है हर ख़ुशी है कुरबां

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
बस तेरी गोद में ही जीना मरना

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
तेरे सजदे में हर ख़ुशी है कुरबां

ओ भारत माँ
ओ भारत माँ
बस तेरी गोद में ही जीना मरना

Leave A Reply

Your email address will not be published.