Take a fresh look at your lifestyle.

Maang Loonga Main Tujhe Taqdeer Se Lyrics

0 1,078

mang longu tuujhe lyrics

A very melodious romantic song from the movie Romance released in the year 1983 and sung beautifully by Amit Kumar, Lata Mangeshkar. Music composed by R D Burman and lyrics penned by Anand Bakshi.

Movie Details

Movie: Romance

Singer/Singers: Amit Kumar, Lata Mangeshkar

Music Director: R D Burman

Lyricist: Anand Bakshi

Actors/Actresses: Poonam Dhillon, Kumar Gaurav

Year/Decade: 1983

Music Label: Universal Music India Pvt Ltd.

Song Lyrics in English Text

Maang Loonga Mai Tujhe Taqdir Se
Arey Ji Nahi Bharta Teri Tasvir Se
Maang Loonga Mai Tujhe Taqdir Se
Arey Ji Nahi Bharta Teri Tasvir Se
Maang Lungi Mai Tujhe Taqdir Se
Ho Ji Nahi Bharta Teri Taharir Se

Yu Dhadakata Hai Kai Rato Se Dil
Bas Gaya Samjho Mere Hatho Se Dil
Kya Bhare Kad Ki Mulakato Se Dil
Kaise Bahalau Teri Bato Se Dil
Kya Kahu Mai Is Dile Be Pir Se
Arey Ji Nahi Bharta Teri Tasvir Se
Maang Lungi Mai Tujhe Taqdir Se
Ho Ji Nahi Bharta Teri Taharir Se

Har Sitam Manjur Hai Vaise Mujhe
Naam Bhulega Tera Kaise Mujhe
Yaad Aati Hai Teri Aise Mujhe
Tune Itni Dhur Se Jaise Mujhe
Bhand Rakha Hai Kisi Zanzir Se
Ho Ji Nahi Bharta Teri Tahrir Se
Maang Loonga Mai Tujhe Taqdir Se
Arey Ji Nahi Bharta Teri Tasvir Se

Tere Mere Shaher Ki Ye Duriya
Hum Ne Shamo Shaher Ki Ye Duriya
Hai Kayamat Kahar Ki Ye Duriya
Aaye Aatho Pahar Ki Ye Duriya
Ho Ji Nahi Bharta Teri Tahrir Se
Maang Loonga Mai Tujhe Taqdir Se
Arey Ji Nahi Bharta Teri Tasvir Se

Song Lyrics in Hindi Font/Text

(अरे) जी नहीं भरता तेरी तस्वीर से

माँग लूँगी मैं तुझे तक़दीर से
(ओ) जी नहीं भरता तेरी तहरीर से

यूँ धड़कता है कई रातों से दिल
बस गया समझो मेरे हाथों से दिल
क्या भरे ख़त की मुलाक़ातों से दिल
कैसे बहकाऊँ तेरी बातों से दिल

क्या कहूँ मैं इस दिले-बेपीर से
(अरे) जी नहीं भरता तेरी तस्वीर से

माँग लूँगी मैं तुझे तक़दीर से
(ओ) जी नहीं भरता तेरी तहरीर से

हर सितम मंज़ूर है वैसे मुझे
नाम भूलेगा तेरा कैसे मुझे
याद आती है तेरी ऐसे मुझे
तूने इतनी दूर से जैसे मुझे

बाँध रखा है किसी जंज़ीर से
(ओ) जी नहीं भरता तेरी तहरीर से

माँग लूँगा मैं तुझे तक़दीर से
(अरे) जी नहीं भरता तेरी तस्वीर से

तेरे-मेरे शहर की ये दूरियाँ
हमने शामो-सहर की ये दूरियाँ
है क़यामत क़हर की ये दूरियाँ
हाए आठों पहर की ये दूरियाँ

कब मिलेंगे हम किसी तदबीर से
(ओ) जी नहीं भरता तेरी तहरीर से

माँग लूँगा मैं तुझे तक़दीर से
(अरे) जी नहीं भरता तेरी तस्वीर से

Leave A Reply

Your email address will not be published.