Take a fresh look at your lifestyle.

Jhoom Rahi Jhoom Rahi Khushiyon Ki | झूम रही खुशियों की नाव Song Lyrics

0 21

Jhoom Rahi Jhoom Rahi Khushiyo Ki Naav Aaj, Song Lyrics from Movie Vidya. This Song sung by Mukesh, Suraiya, Amirbai. Music given by S D Burman & Lyrics written by S Joshi. Star cast of this movie are Dev Anand, Suraiya, Madan Puri, Maya Banerjee, Cuckoo, Ghulam Mohammad, Munshi Khanjar

Movie Details

Movie: Vidya

Singer/Singers: Mukesh, Suraiya, Amirbai

Music Director: S D Burman

Lyricist: S Joshi

Actors/Actresses: Dev Anand, Suraiya, Madan Puri, Maya Banerjee, Cuckoo, Ghulam Mohammad, Munshi Khanjar

Year/Decade: 1948

Music Label: Saregama Music

Song Lyrics in English Text

Jhum Rahi Jhum Rahi Jhum Rahi
Hushiyo Ki Naav
Aaj Man Ki Tarango Pe Jhum Rahi Re
Jhum Jhum Jhum Rahi Re
Ashaye Nach Rahi Naiya Ke Sang
De De Ke Tali Khewaiya Ke Sang
Ashaye Nach Rahi Naiya Ke Sang
De De Ke Tali Tali Khewaiya Ke Sang
Albeli Nayichavar Khevaiya Pe Hai
Albeli Nayichavar Khevaiya Pe Hai
Jhum Rahi Jhum Rahi Jhum Rahi
Hushiyo Ki Naav
Aaj Man Ki Tarango Pe Jhum Rahi Re
Jhum Jhum Jhum Rahi Re

Ise Kya Padi Ise Kya Padi
Jo Dhundhe Kinara Dhundhe Kinara
Raja Ki Rani Chahe Jiska Sahara
Bolo Jiska Sahara
Ise Kya Padi Jo Ye Dhundhe Kinara Dhundhe Kinara
Ye To Khevak Ke Charno Ko Chum Rahi Re
Ye Khevak Ke
Ye Khevak Ke Charno Ko Chum Rahi Re
Man Ki Tarango Pe Jhum Rahi Re
Jhum Jhum Jhum Rahi Re
Jhum Rahi Jhum Rahi Jhum Rahi
Hushiyo Ki Naav
Aaj Man Ki Tarango Pe Jhum Rahi Re
Jhum Jhum Jhum Rahi Re

Song Lyrics in Hindi Text

झूम रही
झूम रही झूम रही
खुशियों की नाव आज
मन की तरंगों पे झूम रही रे
झूम झूम झूम रही रे
झूम रही झूम रही
खुशियों की नाव आज
मन की तरंगों पे झूम रही रे
झूम झूम झूम रही रे

आशाएँ नाच रहीं
नैया के संग
दे दे के ताली खेवैया के संग
आशाएँ नाच रहीं
नैया के संग
दे दे के ताली
ताली
खेवैया के संग
अलबेली निछावर
खेवैया पे है
अलबेली निछावर
खेवैया पे है
उसके इशारों पे घूम रही रे
झूम झूम झूम रही रे
झूम रही झूम रही
खुशियों की नाव आज
मन की तरंगों पे झूम रही रे
झूम झूम झूम रही रे

इसे क्या पड़ी
इसे क्या पड़ी जो
ये ढूंढें किनारा
ढूंढें किनारा
राजा की रानी चाहे
जिसका सहारा
बोलो किसका सहारा
इसे क्या पड़ी जो
ये ढूंढें किनारा
ढूंढें किनारा
ये तो खेवट के
ये तो खेवट के चरणों को
चूम रही

चूम रही चूम रही
ये तो खेवट के चरणों को
चूम रही रे
मन की तरंगों पे झूम रही रे
झूम झूम झूम रही रे
झूम रही झूम रही
खुशियों की नाव आज
मन की तरंगों पे झूम रही रे
झूम झूम झूम रही रे.

Leave A Reply

Your email address will not be published.