Take a fresh look at your lifestyle.

Garibo Ki Duniya Hai Tere Hawale | गरीबों की दुनिया है Song Lyrics

0 102

Garibo Ki Duniya Hai Tere Hawale, Song Lyrics from Movie Tadbir. This Song sung by Naseem Akhtar, K L Saigal, Suraiya. Music given by Lal Muhammad & Lyrics written by Swami Ramanand Saraswati. Star cast of this movie are K L Sehgal, Suraiya, Shashi Kapoor, Mubarak, Rehana Sultan, Jillo, Sabi, Shalini

Movie Details

Movie: Tadbir

Singer/Singers: Naseem Akhtar, K L Saigal, Suraiya

Music Director: Lal Muhammad

Lyricist: Swami Ramanand Saraswati

Actors/Actresses: K L Sehgal, Suraiya, Shashi Kapoor, Mubarak, Rehana Sultan, Jillo, Sabi, Shalini

Year/Decade: 1950

Music Label: Saregama Music

Song Lyrics in English Text

Chahe To Mita De Chahe To Bacha Le
Chahe To Mita De Chahe To Bacha Le
Garibo Ki Dunia Hai Tere Hawale
Garibo Ki Dunia Hai Tere Hawale

Are Haa Kabhi Bahti Thi Yaha
Dudh Ki Nahre Har Dil Me Utha
Har Dil Me Utha
Karti Thi Anand Ki Lahre
Ab Dukh Ke Samundar Me Hum Dubne Wale
Hai Tere Hawale
Garibo Ki Dunia Hai Tere Hawale

Garibo Ki Kismat, Garibo Ki Kismat
Kuch Aisi Hai Soyi, Kuch Aisi Hai Soyi
Jaha Me Nahi
Jaha Me Nahi Inka Hamdard Koi
Sab Inke Lahu Ko Samjhe Hai Pani
Sab Inke Lahu Ko Samjhe Hai Pani
Ab Inke Liye, Ab Inke Liye
Maut Hai Zindgani

Na Khaane Ko Roti
Ha Na Khaane Ko Roti
Na Tan Pe Hai Kapda
Na Tan Pe Hai Kapda
Musibat Hai Aur Sahne Ko Jhagada
Aur Sahne Ko Jhagada
Pade Hai Ye Jaalim Jamaane Ke Paale
Pade Hai Ye Jaalim Jamaane Ke Paale
Garibo Ki Dunia Hai Tere Hawale

Jaha Ko Banaye Jaha Me Rahe Na
Jaha Ko Banaye Jaha Me Rahe Na
Musibat Sahe Aur Muh Se Kahe Na
Musibat Sahe Aur Muh Se Kahe Na
Besabr Laashe Hajaaro Padi Hai
Besabr Laashe Hajaaro Padi Hai
Bata Aisi Halat Pe Aasu Bahe Na
Bata Aisi Halat Pe Aasu Bahe
Yu Bahte Hai Phute Hue Dil Ke Chale
Yu Bahte Hai Phute Hue Dil Ke Chale
Garibo Ki Dunia Hai Tere Hawale
Garibo Ki Dunia Hai Tere Hawale
Chahe To Mita De Chahe To Bacha Le
Garibo Ki Dunia Hai Tere Hawale

Song Lyrics in Hindi Text

चाहे तू मिटा दे
चाहे तू बचा ले
चाहे तू मिटा दे
चाहे तू बचा ले
गरीबों की दुनिया
है तेरे हवाले
गरीबों की दुनिया
है तेरे हवाले

अरे हाँ कभी
बहती थीं यहां
दूध की नहरें
हर दिल में उठा
हर दिल में उठा
करती थीं आनंद की लहरें

अब दुःख के समंदर में हैं
हम डूबने वाले
है तेरे हवाले
है तेरे हवाले
गरीबों की दुनिया
है तेरे हवाले

गरीबों की किस्मत
गरीबों की किस्मत
कुछ ऐसी है सोई
कुछ ऐसी है सोई
जहां में नहीं
जहां में नहीं
उनका हमदर्द कोई
सब उनके लहू को
समझते हैं पानी
सब उनके लहू को
समझते हैं पानी
अब इन के लिए
अब इन के लिए
मौत है ज़िंदगानी

ना खाने को रोटी
हाँ ना खाने को रोटी
ना तन पे है कपडा
ना तन पे है कपडा
मुसीबत है
और सहने को झगड़ा
पड़े हैं ये ज़ालिम
ज़माने के पाले
पड़े हैं ये ज़ालिम
ज़माने के पाले
गरीबों की दुनिया
है तेरे हवाले

जहां को बनाएं
जहां में रहें ना
जहां को बनाएं
जहां में रहें ना
मुसीबत सहें और
मुंह से कहें ना
मुसीबत सहें और
मुंह से कहें ना

बेसब्र लाशें
हज़ारों पड़ी हैं
बेसब्र लाशें
हज़ारों पड़ी हैं
बता ऐसी हालत में
आंसू बहे ना
बता ऐसी हालत में
आंसू बहे
यूं बहते हैं
फूटे हुए दिल के छाले
यूं बहते हैं
फूटे हुए दिल के छाले
गरीबों की दुनिया
है तेरे हवाले
गरीबों की दुनिया
है तेरे हवाले
चाहे तू मिटा दे
चाहे तू बचा ले
गरीबों की दुनिया
है तेरे हवाले.

Leave A Reply

Your email address will not be published.