Take a fresh look at your lifestyle.

Fizaa Tu Havaa Hai Fizaa Hai Song Lyrics

0 413
Fizaa Tu Havaa Hai Fizaa Hai
Fizaa Tu Havaa Hai Fizaa Hai Song

Fizaa Tu Havaa Hai Fizaa Hai Song Lyrics From Movie 3 Idiots sung by Sonu Nigam, Alka Yagnik, Prashant Samaddar and music given by Anu Malik and A R Rahman and lyrics by Gulzar, Sameer, Shaukat Ali, Tejpal Kaur.

Movie Details

Movie: Fiza

Singer/Singers: Sonu Nigam, Alka Yagnik, Udit Narayan

Music Director: Anu Malik, Ranjit Barot, A R Rahman

Lyricist: Gulzar, Sameer, Shaukat Ali, Tejpal Kaur

Actors/Actresses: Jaya Bachchan, Karisma Kapoor, Hrithik Roshan, Manoj Bajpayee

Year/Decade: 2000

Music Label: Tips Music

Song Lyrics in English Text

Fiza Fiza Fiza He Fiza
Tu Hava Hai Fiza Hai Zami Ki Nahi
Tu Ghata Hai To Phir Kyun Barasati Nahi
Udati Rahati Hai Tu Panchhiyo Ki Tarah
Aa Mere Aashiyane Me Aa
Tu Hava Hai Fiza Hai Zami Ki Nahi
Tu Ghata Hai To Phir Kyun Barasati Nahi
Udati Rahati Hai Tu Panchhiyo Ki Tarah
Aa Mere Aashiyane Me Aa
Mai Hava Hu Kahi Bhi Thaharati Nahi
Ruk Bhi Jaau Kahi Par To Rahati Nahi
Maine Tinake Uthaaye Huye Hai Paro Par
Aashiyana Nahi Hai Mera

Ghane Ek Ped Se Mujhe Jhoka Koi Le Ke Aaya Hai
Sukhe Ik Patte Ki Tarah Hava Ne Har Taraf Udaaya Hai
Aana Aa He Aana Aa, Ik Dafa Is Zami Se Uthe
Paanv Rakhe Hava Par Zara Saa Ude
Chal Chale Ham Jahaan Koi Rasta Na Ho
Koi Rahata Na Ho Koi Basata Na Ho
Kahate Hai Aankho Me Milati Hai Aisi Jagah, Fiza Fiza
Mai Hava Hu Kahi Bhi Thaharati Nahi
Ruk Bhi Jaau Kahi Par To Rahati Nahi
Maine Tinake Uthaaye Huye Hai Paro Par
Aashiyana Nahi Hai Mera

Tum Mile To Kyun Laga Mujhe Khud Se Mulaakaat Ho Gai
Kuchh Bhi To Kaha Nahi Magar Zindagi Se Baat Ho Gai
Aana Aa He Aana Aa, Saath Baithe Zara Der Ko
Haath Thaame Rahe Aur Kuchh Naa Kahe
Chhu Ke Dekhe To Aankho Ki Khaamoshiya
Kitani Chupachaap Hoti Hai Saragoshiya
Sunate Hai Aankho Me Hoti Hai Aisi Sada, Fiza Fiza

Tu Hava Hai Fiza Hai Zami Ki Nahi
Tu Ghata Hai To Phir Kyun Barasati Nahi
Udati Rahati Hai Tu Panchhiyo Ki Tarah
Aa Mere Aashiyane Me Aa
Mai Hava Hu Kahi Bhi Thaharati Nahi
Ruk Bhi Jaau Kahi Par To Rahati Nahi
Maine Tinake Uthaaye Huye Hai Paro Par
Aashiyana Nahi Hai Mera

Song Lyrics in Hindi Font

फ़िज़ा
फ़िज़ा
फ़िज़ा
हे फ़िज़ा
तू हवा है फ़िज़ा है, जमीं की नहीं
तू घटा है तो फिर क्यूँ बरसती नहीं
उड़ती रहती है तू पंछियों की तरह
आ मेरे आशियाने में आ
तू हवा है फ़िज़ा है, जमीं की नहीं
तू घटा है तो फिर क्यूँ बरसती नहीं
उड़ती रहती है तू पंछियों की तरह
आ मेरे आशियाने में आ
मैं हवा हूँ कहीं भी ठहरती नहीं
रुक भी जाऊँ कहीं पर तो रहती नहीं
मैंने तिनके उठाये हुए हैं परों पर
आशियाना नहीं है मेरा

घने एक पेड़ से मुझे
झोंका कोई लेके आया है
सूखे इक पत्ते की तरह
हवा ने हर तरफ उड़ाया है
आ ना आ
हे, आ ना आ इक दफ़ा
इस जमीं से उठें
पाँव रखें हवा पर
ज़रा सा उड़ें
चल चलें हम जहाँ कोई रस्ता न हो
कोई रहता न हो, कोई बसता न हो
कहते हैं आँखों में मिलती है ऐसी जगह
फ़िज़ा
फ़िज़ा
मैं हवा हूँ कहीं भी ठहरती नहीं
रुक भी जाऊँ कहीं पर तो रहती नहीं
मैंने तिनके उठाये हुए हैं परों पर
आशियाना नहीं है मेरा

तुम मिले तो क्यूँ लगा मुझे
खुद से मुलाक़ात हो गयी
कुछ भी तो कहा नहीं मगर
ज़िन्दगी से बात हो गयी
आ ना आ
हे, आ ना आ सात बैठे ज़रा देर तो
हाथ थामे रहें और कुछ ना कहें
छुके देखे तो आँखों की खामोशियाँ
कितनी चुपचाप होती हैं सरगोशियाँ
सुनते हैं आँखों में होती है ऐसी सदा

फ़िज़ा
फ़िज़ा
तू हवा है फ़िज़ा है, जमीं की नहीं
तू घटा है तो फिर क्यूँ बरसती नहीं
उड़ती रहती है तू पंछियों की तरह
आ मेरे आशियाने में आ
मैं हवा हूँ कहीं भी ठहरती नहीं
रुक भी जाऊँ कहीं पर तो रहती नहीं
मैंने तिनके उठाये हुए हैं परों पर
आशियाना नहीं है मेरा

Note: For any mistake in Lyrics kindly let us know !!

Leave A Reply

Your email address will not be published.