Take a fresh look at your lifestyle.

Aaine Ke Samne Is Tarha Se Lyrics

0 153

Romantic song from the album Geetnuma starring Pankaj Udhas. The album was released in the year 1998. Music was composed by N/A and lyrics were penned by N/A.

Movie Details

Movie: Geetnuma

Singer/Singers: Pankaj Udhas

Music Director: N/A

Lyricist: N/A

Actors/Actresses: Pankaj Udhas and

Year/Decade: 1998

Music Label: UMG

Song Lyrics in English Text

Aaine Ke Saamne
Aaine Ke Saamne Is Taraha Se Jaaya Na Karo
Aaine Ke Saamne Is Taraha Se Jaaya Na Karo
Kuch Aaine Bhi Jyaadar Huaa Karte Hain
Wo Agar Seene Se Lipta Lenge To Phir
Phir Kyaa Hoga Aaine Ke Saamne
Is Tarah Se Jaaya Na Karo

Husn Daulat Hain Usse Sabko Dikhaya Na Karo
Husn Daulat Hain Usse Sabko Dikhaya Na Karo
Baag Me Ghumne Tum Shaam Ko Jaaya Na Karo
Dekho Phoolo Me Bhi Kuch Chor Huaa Karte Hain
Rang Woh Gaalon Ka Chura Lenge
To Phir Phir Kyaa Hoga
Aaine Ke Saamne Is Taraha Se Jaaya Na Karo

Ban Sanwar Ke Kabhi Bazaar Me Jaaya Na Karo
Ban Sanwar Ke Kabhi Bazaar Me Jaaya Na Karo
Saath Chalte Huye Tum Haath Chhudaya Na Karo
Tum Pe Sab Logo Ki Nazaren Hain Tumhein Kyaa Maalum
Bheed Me Woh Tum Ko Chhupa Lenge To Phir
Phir Kyaa Hoga
Aaine Ke Saamne Is Tarah Se Jaaya Na Karo

Koi Mehfil Ho Mere Saath Tum Aaya Na Karo
Koi Mehfil Ho Mere Saath Tum Aaya Na Karo
Dosto Se Mere Tum Hath Milaya Na Karo
Dosto Me Kahin Shayar Huaa Karte Hain
Tumko Woh Shero Me Saja Lenge To Phir
Phir Kyaa Hoga
Aaine Ke Saamne Is Taraha Se Jaaya Na Karo
Kuch Aaine Bhi Jyadar Huaa Karte Hain
Wo Agar Seene Se Lipta Lenge To Phir
Phir Kyaa Hoga
Aaine Ke Saamne Iss Taraha Se Jaaya Na Karo

Song Lyrics in Hindi Font/Text

आईने के सामने
आईने के सामने इस तरह से जाया ना करो
आईने के सामने इस तरह से जाया ना करो
कुछ आईने भी ज्यादर हुआ करते है
वो अगर सीने से लिपटा लेंगे तो फिर
फिर क्या होगा

आईने के सामने इस तरह से जाया करो
हम दौलत है उससे सबको दिखावा ना करो
हम दौलत है उससे सबको दिखावा ना करो
बाग में घुमने तुम शाम को जाया ना करो
देखो फूलों में भी कुछ चोर हुआ करते है
रंग वो गालों का चुरा लेंगे तो फिर
फिर क्या होगा

आईने के सामने इस तरह से जाया करो
बन संवर के कभी बाजार में जाया ना करो
बन संवर के कभी बाजार में जाया ना करो
साथ चलते हुए तुम हाथ छुड़ाया ना करो
तुम पे सब लोगों की नज़रे है तुम्हे कया मालुम
भीड़ मे वो तुम को छुपा लेंगे तो फिर
फिर क्या होगा

आईने के सामने इस तरह से जाया ना करो
कोई महफ़िल हो मेरे साथ तुम आया ना करो
कोई महफ़िल हो मेरे साथ तुम आया ना करो
दोस्तों से मेरे तुम हाथ मिलाया ना करो
दोस्तों में कहीं शायर हुआ करते है
तुमको वो शेरो में सजा लेंगे तो फिर
फिर क्या होगा

आईने के सामने इस तरह से जाया ना करो
कुछ आईने भी ज्यादर हुआ करते है
वो अगर सीने से लिपटा लेंगे तो फिर
तो फिर फिर क्या होगा
आईने के सामने इस तरह से जाया करो

Leave A Reply

Your email address will not be published.